मंगलवार, 3 फ़रवरी 2009

प्यार...यानी आत्महत्या...हत्या...बलात्कार

प्रिय मित्रों! क्या है प्यार??? क्या हो रहा है प्यार के नाम पर? अजी फिल्मवालों ने हमारा मनोरंजन करने के बहाने युवाओं को प्यार का जो पाठ पढ़ा रहे हैं उसके गंभीर परिणाम आपके सामने है। युवाओं को बिगाड़ने के लिए फ़िल्म और टीवी कम पड़ गये तो लोगों ने विदेश से "VALANTINE DAY" आयात कर लिया। आइये हम ख़ुद देखें प्यार का हस्र...



ImageChef Custom Images ImageChef.com - Custom comment codes for MySpace, Hi5, Friendster and more आत्महत्या

बलात्कार और यौन शोषण

हत्या






2 टिप्‍पणियां:

  1. आप सादर आमंत्रित हैं, आनन्द बक्षी की गीत जीवनी का दूसरा भाग पढ़ें और अपनी राय दें!
    दूसरा भाग | पहला भाग

    उत्तर देंहटाएं

KAZH आपके बहुमूल्य टिप्पणियों का स्वागत करता है...
हिंदी में लिखने के लिए कृपया यहाँ क्लिक करें.